पतंगबाजी के कारण दुर्घटनाओं के मध्यनज़र मणिपाल हॉस्पिटल ने तैयार की विशेष टीम


बैस्ट रिपोर्टर न्यूज,जयपुर (रिपोर्ट : आशा पटेल)। मणिपाल हॉस्पिटल में पंतग बाजी के त्यौहार को देखते हुये विशेष टीम का गठन किया जिसमें पंतगों से होने वाले सभी प्रकार की दुर्घटनाओं के लिए आपातकालीन विशेष  टीम 24 घंटे उपलब्ध रहेगी।

इस अवसर पर श्री रंजन ठाकुर, डायरेक्टर मणिपाल हॉस्पिटल जयपुर ने बताया की प्रति वर्ष कई लोग पंतग के मांझे से घायल हो जाते है व कई लोग छत से गिर जाते है। पंतग लूटते समय वाहन की चपेट में आ जाते है। इन सभी प्रकार की दुर्घटनाओं को देखते हुये हॉस्पिटल में सुविधायें बनाई गई है जो 24 घंटे उपलब्ध रहेगी व आने वाले घायलों का उपचार करेगी।

इस अवसर पर डॉ. त्रिवेणी ढाका ने बताया की दो पहिया वाहन चालको को विशेष सावधानी बरतने की जरुरत है , हेलमेट के साथ ही गले में मफलर का प्रयोग करें व वाहन की गति धीमी  रखे व छोटे बच्चों को  आगे नहीं बिठायें।

पंतगबाजों से डॉ. त्रिवेणी ने कहा की चाईनीज माझे का प्रयोग नही करे व साथ ही रोड़, रेल की पटरीयों व बिना दीवार की छत पर पंतग नहीं उडायें व छोटें बच्चों को माता पिता की निगरानी में पंतग बाजी करवायें। प्रातः व सायंकाल के समय पंतगबाजी करने से बचे।

इस अवसर पर श्री रंजन ठाकुर डायरेक्टर मणिपाल हॉस्पिटल जयपुर ने बताया की हम लोग सदैव ही जन सरोकार में आगे रहते है। जयपुर में पंतग बाजी से होने वाली दुर्घनाओं की संख्या अधिक होती है। इस कारण हमने यह विशेष टीम बनाई है।

Popular posts
राज्य स्तरीय ताइक्वांडो प्रतियोगिता में खिलाड़ियों ने ताइक्वांडो मे राज्य स्तर पर जीते 16 पदक
चित्र
समग्र सेवा संघ की गोष्ठी में जे.पी. व लोहिया को दी शब्दांजलि, समाजवाद व लोकतंत्र की प्रासंगिकता पर हुआ मंथन
चित्र
महामारी का आना , हकीकत है या फसाना ? वैश्विक षड़यंत्र के विचारणीय संकेत
चित्र
कोटा सेंट्रल जेल में जरूरतमंद बंदियों को बांटे गर्म कपड़े
चित्र
पत्रकार दम्पति के साथ टोलकर्मियों द्वारा मारपीट मामले में मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान, पुलिस करेगी चालान पेश
चित्र