कोटा सेंट्रल जेल में जरूरतमंद बंदियों को बांटे गर्म कपड़े


बैस्ट रिपोर्टर न्यूज,कोटा । सुना था जिसका कोई नहीं होता उसका ऊपर वाला होता है दान से बड़ा कोई धर्म नहीं और सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं इन बातों को चरितार्थ करते हुए अल मदद एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी संस्था के सदस्यों ने नववर्ष एवं मकर संक्रांति के उपलक्ष में कोटा सेंट्रल जेल में एक सौ पचास गरीब एवं बेसहारा बंदी जिन्हें बाहर से कोई मिलने नहीं आता ऐसे बंदियों को ठिठुरती सर्दी से बचाने के लिए स्वेटर जैकेट टोपी मौजे कान की पट्टी आदि वितरण किए|

 गर्म कपड़े मिलते ही बंदियों के मुरझाए चेहरों पर खुशी की लहर दौड़ पडी अल मदद एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी संस्था के संस्थापक अध्यक्ष नूर मोहम्मद आयोजक इंकलाब मोर्चा प्रमुख मोहम्मद हुसैन ने बताया कि अल मदद एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी सामाजिक कार्यों में सदैव अग्रणी रहती हैं तथा संस्था द्वारा समय-समय पर जरूरतमंदों को हर संभव सहायता प्रदान की जाती रहती है संस्था के सदस्यों ने बंदियों को प्रेरक प्रसंग सुनाए एवं योग शिक्षा और सामाजिक कार्य करने के साथ ही जीवन में अच्छा इंसान बनने की प्रेरणा दी|

 

हुसैन ने कहा कि अल मदद एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी संस्था ने पूर्व में भी कोटा सेंट्रल जेल में कई बार गर्म कपड़े बांटे, एवं बंदियों की मशीन द्वारा आंखों की जांच करवा कर 110  बंदियों को नजर के चश्मे भी प्रदान किए थे तथा नशा मुक्ति कैंप से बंदियों को नशा छोड़ने के लिए प्रेरित किया था जेल विद्यालय के लिए पाठ्य सामग्री भी भेंट की थी मोहम्मद हुसैन ने कहा कि संस्था हमेशा बंदियों की मूल सुधार कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए प्रयासरत है|

 जेल अधीक्षक परमजीत सिंह सिद्धू ने बताया कि बंदी अगर सोच ले तो अपना आचरण सुधार कर समाज का एक जिम्मेदार नागरिक बन सकता है कार्यक्रम के अंत में उप अधीक्षक जसवंत सिंह ने अल मदद एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी संस्था का आभार जताया इस मौके पर कर्यपाल पाल सद्दाम हुसैन उप कर्यपाल किशन मीणा, रामप्रताप छिपा, समस्त जेल स्टाफ ने कार्यक्रम की सराहना कि अल मदद एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी उपाध्यक्ष नासीर मोहम्मद, प्रेमचंद शर्मा, इमरान खान, अकील, मोहित शर्मा, ने संपूर्ण व्यवस्था संभालने में सहयोग किया।

Popular posts
राज्य स्तरीय ताइक्वांडो प्रतियोगिता में खिलाड़ियों ने ताइक्वांडो मे राज्य स्तर पर जीते 16 पदक
चित्र
समग्र सेवा संघ की गोष्ठी में जे.पी. व लोहिया को दी शब्दांजलि, समाजवाद व लोकतंत्र की प्रासंगिकता पर हुआ मंथन
चित्र
महामारी का आना , हकीकत है या फसाना ? वैश्विक षड़यंत्र के विचारणीय संकेत
चित्र
पत्रकार दम्पति के साथ टोलकर्मियों द्वारा मारपीट मामले में मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान, पुलिस करेगी चालान पेश
चित्र